रांची. राजधानी रांची में 14 से 21 सितम्बर तक भागवत कथा में ज्ञान वर्षा होगी. अखिल भारतीय मारवाड़ी महिला सम्मेलन, रांची शाखा के द्वारा श्री श्याम मंदिर, हरमू रोड में श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ सप्ताह का आयोजन किया जा रहा है. गुरुमाँ आनन्दाश्रम, नासिक की पूज्य गुरुमाँ चैतन्य मीरा प्रतिदिन दोपहर 2:30 बजे से सायं 6:30 बजे तक श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ की अमृत वर्षा करेंगी.

आज लेक रोड स्थित पंचरत्न बिल्डिंग में हुई प्रेस वार्ता में शाखा अध्यक्ष मंजू केडिया एवं राष्ट्रीय महिला सशक्तिकरण प्रमुख श्रीमती नीरा बथवाल जी  ने बताया कि कथा के मुख्य यजमान के रूप में श्री प्रदीप सुरेका एवं श्रीमती रीना सुरेका होंगी. भागवत कथा के  आयोजन के दौरान मंच के द्वारा प्रतिदिन सेवा कार्य  किए जाएंगे. इससे पूर्व गुरु मां चैतन्य मीरा, उर्मिला मां, नंदा मां एवं गुरुजी का स्वागत किया गया.

गुरुमां आनंदाश्रम संस्थापक हैं गुरुमां चैतन्य मीरा

गुरुमां चैतन्य मीरा की कर्मभूमि नासिक है. वे देशभर में लगातार श्रीमद्भागवत कथा, राम कथा, भक्तमाल कथा, भगवद् गीता प्रवचन, नानी बाई का मायरा, रुक्मिणी मंगल कथा,  गणेश जी का ब्यावला, खाटू श्याम बाबा की कथा की अमृत रूपी रस धारा का लाभ भक्तों के बीच बांटती रहती हैं. गुरुमां ने नासिक में इगतपुरी के पास ‘Nirvana naturopathy & retreat’ (गुरुमां आनंदाश्रम) जनमानस के स्वास्थ्य के लिए समर्पित किया है. लाइफ केयर एंड पीस मिशन की स्थापना गुरुमां ने सन् 1998 में की थी. जहां सामान्य मानवीय जीवन के शारीरिक, मानसिक, बौद्धिक, आत्मिक एवं आध्यात्मिक विकास करने के लिए संस्था सदैव प्रयत्नशील रहती है. गरीब बालिकाओं की शिक्षा एवं जरूरतमंद कन्याओं के विवाह जैसे कार्यक्रम के आयोजन एवं उनमें  योगदान देने हेतु प्रयास किया जाता है. गुरुमां के सान्निध्य में विश्वभर में आयोजित होने वाले सैकड़ों “My Glorious Life Shivir” &  “Advance Meditation Retreat” से हजारों साधकों ने योग एवं ध्यान के विलक्षण प्रभाव की अनुभूति प्रत्यक्ष रुप से की है.

कथा प्रसंग एवं प्रत्येक दिन सेवा कार्य

14 को कलश यात्रा, भागवत महात्म्य, गोकर्ण कथा, नारद चरित्र, परीक्षित रक्षा एवं अन्य विषयों पर सत्संग होगा. 15 को शुक परीक्षित संवाद, कपिलोपाख्यान एवं सती चरित्र, 16 को  ध्रुव चरित्र, जड़भरत कथा, प्रह्लाद चरित्र एवं नृसिंह अवतार, 17 को गजेंद्र मोक्ष, वामन अवतार, श्री राम चरित्र एवं श्री कृष्ण जन्मोत्सव, 18 को श्रीकृष्ण बाल लीला, गोवर्धन पूजा एवं छप्पन भोग, 19 को महारास, रुक्मिणी विवाह एवं फूलों की होली, 20 को सुदामा चरित्र, परीक्षित मोक्ष एवं शुकदेव विदाई तथा अंतिम दिन 21 को हवन पूजन पूर्णाहुति एवं महाप्रसाद का वितरण किया जायेगा.

उपस्थिति :

राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्रीमती रूपा अग्रवाल, गीता डालमिया, अलका सरावगी, रीना सुरेका, मंजू लोहिया, मंजू मुरारका, मधु सर्राफ, ललिता नारसरिया, रीना सर्राफ, श्वेता सर्राफ ,मंजू गाड़ोदिया, निधि सर्राफ, सुशीला पोद्दार, उर्मिला पाडिया, प्रीति पोद्दार, बबीता नारसरिया, सरिता अग्रवाल, रीता केडिया, अनामिका पसारी, अलका अग्रवाल, अनुपमा राजगढ़िया, कुसुम पटवारी, लक्ष्मी पाटोदिया, निर्मला जैन और मीडिया प्रभारी अनु पोद्दार एवं रेखा अग्रवाल आदि.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here